दिल्ली में 24 घंटों के दौरान घातक कोरोना वायरस से एक भी मौत की सूचना नहीं मिली है

सामूहिक इच्छा शक्ति की वजह से संक्रमण पर जीत

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मंगलवार को पिछले 24 घंटों के दौरान घातक कोरोना वायरस से एक भी मौत की सूचना नहीं मिली है।

कोविड-19 के 100 नए मामले सामने आए हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के लोगों की सामूहिक इच्छा शक्ति की वजह से संक्रमण पर धीरे-धीरे जीत मिल रही है।” दिल्ली में संक्रमण दर में कमी आने के बाद अब यह 0.18 फीसदी है। वहीं मृतकों की संख्या 10,882 है।

हमें अब भी पूरी सावधानी बरतनी है

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया, ”दिल्लीवासियों के लिए सुखद समाचार। आज कोरोना की वजह से दिल्ली में एक भी मौत नहीं हुई। दिल्लीवासियों को बधाई। कोरोना के मामले भी कम हो चुके हैं, टीकाकरण अभियान तेजी से चल रहा है। दिल्लीवालों ने कोरोना के खिलाफ बहुत कठिन लड़ाई लड़ी। हमें अब भी पूरी सावधानी बरतनी है।”

सत्येंद्र जैन ने एक ट्वीट में कहा , ”कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से आज किसी व्यक्ति की मौत नहीं हुई। दिल्ली की सामूहिक इच्छा शक्ति से अब धीरे-धीरे संक्रमण पर जीत हासिल हो रही है। मैं एहतियात बरतने के लिए दिल्ली की जनता और संक्रमण से निपटने के लिए संघर्ष करने वाले स्वास्थ्य कर्मियों और अग्रिम मोर्चे पर काम करने वाले लोगों का शुक्रिया अदा करता हूं।”

Today no death has been reported due to COVID infection. Delhi’s collective will is gradually winning over the infection. I congratulate the people of Delhi for taking proper precautions and our healthcare and frontline workers who have fought this battle tooth and nail.

70 फीसदी जनता अब भी वायरस से ‘अति संवेदनशील’ के दायरे में

पॉल ने कहा, ” लगातार मौत के 100 से कम मामले आ रहे हैं और पिछले 24 घंटे में दिल्ली में एक भी व्यक्ति की मौत नहीं हुई।” दिल्ली स्वास्थ्य विभाग ने एक बुलेटिन में बताया कि अब 1,052 मरीजों का इलाज चल रहा है। संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 6,36,260 हो गई।

  • इसी बीच नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉक्टर वी के पॉल ने मंगलवार को बताया कि नए मामलों और मरीजों की मौत के मामले में कमी आई है।
  • उन्होंने कहा कि पिछले राष्ट्रीय सीरो-सर्वेक्षण के आंकड़ों के अनुसार देश की 70 फीसदी जनता अब भी वायरस से ‘अति संवेदनशील’ के दायरे में आती है।
  • उन्होंने टीकाकरण के जरिए हर्ड इम्युनिटी (सामूहिक रोग प्रतिरोधक क्षमता) को हासिल करने पर भी जोर दिया।