गोवा के पणजी निर्वाचन क्षेत्र से एक निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़े हैं उत्पल पर्रिकर

गोवा विधानसभा में 78.94% मतदान

  •  गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर ने कहा कि उन्होंने इस चुनाव में स्थानीय लोगों और उनके पिता के बीच जो प्यार था, उसका अनुभव किया है।
  • बता दें कि उत्पल गोवा के पणजी निर्वाचन क्षेत्र से एक निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़े हैं। गोवा विधानसभा की 40 सीटों पर राज्य में 14 फरवरी को एक ही चरण में चुनाव हुए और 78.94% मतदान हुआ।
  • उत्पल ने कहा, ‘पिछले एक या दो महीने में, मैं पणजी में बहुत घूमा हूं और इस दौरान मुझे आप में से कई लोगों के साथ बातचीत करने का अवसर मिला है और अब मुझे मेरे पिता स्वर्गीय मनोहर पर्रिकर की पणजी और पोंजेकरों (पणजी निवासियों) की इतना प्यार, लगाव और गर्व वाली भावना का एहसास हो सका है।’
  • चुनाव में उनका भारी समर्थन करने के लिए उत्पल ने उनका धन्यवाद कहते हुए कहा, ‘मैं उन सभी पोंजेकर को धन्यवाद देता हूं जिन्होंने मुझे वोट दिया और मुझे अपने अपार समर्थन से आशीर्वाद दिया। मैं इस अवसर पर अपने सभी समर्थकों और स्वयंसेवकों को भी धन्यवाद देता हूं, जिन्होंने अपने स्वयं के संसाधनों का उपयोग करते हुए और विभिन्न निहित स्वार्थों के दबाव में नहीं झुकने के लिए पूरे अभियान में अथक प्रयास किया।’
  • 1994 के बाद से जब मनोहर पर्रिकर ने पहली बार कांग्रेस के इस क्षेत्र पर जीत हासिल की तो फिर उन्होंने इसके बाद छह बार पणजी निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया था।
  • गौरतलब है कि उत्पल पर्रिकर को भाजपा की 34 उम्मीदवारों की पहली सूची में शामिल नहीं किया गया था। इसके बाद उत्पल ने भाजपा छोड़ दी और पणजी से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में अपना नामांकन दाखिल किया।