आज दिल्ली में स्कूल खुल रहे हैं – मनीष सिसोदिया

आज अपने स्कूल जाने के लिए कोविड-10 प्रोटोकॉल

  • कोरोना काल के कई महीनों के लंबे ब्रेक के बाद राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में आज (सोमवार) 18 जनवरी को स्कूल खुल गए हैं।
  • कोरोना को देखते हुए दिल्ली में कक्षा 10वीं और 12वीं के लिए स्कूलों को फिर से खोले गए हैं।
  • इस मौके पर दिल्ली के उप मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने ट्वीट कर खुशी जाहिर की है।

मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा कि वो आज बहुत खुश हैं कि दिल्ली में फिर से स्कूल खुल गए हैं। मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा, ”कक्षा 10वीं और 12वीं के उन छात्रों को शुभकामनाएं, जो 10 महीने बाद आज अपने स्कूल जाने वाले हैं। (हालांकि यह केवल सीमित उद्देश्य के लिए और कोविड-10 प्रोटोकॉल के साथ है…) लेकिन फिर भी…मुझे खुशी है कि आज दिल्ली में स्कूल खुल रहे हैं।”

वहीं हरकोर्ट बटलर सीनियर सेकेंडरी स्कूल की प्रिंसिपल नीरा राव ने कहा, ”जिस तरह से छात्र कक्षाओं में सीखते हैं, ऑनलाइन कक्षाओं के दौरान ऐसी बातचीत संभव नहीं है। सिलेबस कम हो जाने के बावजूद, बोर्ड परीक्षाएं पास आ रही हैं और हम छात्रों को संशोधन में मदद कर सकेंगे।”

न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए एक छात्र ने बताया, “स्कूल आकर बहुत अच्छा लग रहा है, ऑनलाइन में वो पढ़ाई नहीं हो पाती जो टीचरों के मार्गदर्शन में होती थी।” स्कूलों का कहना है कि छात्राओं को कोविड-19 एसओपी को फॉलो करते हुए ही एंट्री दी जाएगी। हालांकि स्कूल बुलाने के लिए पैरंट्स से लिखित सहमति ली जा रही है। बिना किसी पैरंट्स से लिखित सहमति के छात्राओं को स्कूल में आने नहीं दिया जाएगा। कई स्कूलों ने पैरंट-टीचर मीटिंग कर उन्हें सेफ्टी के साथ स्कूल खोलने का भरोसा दिया है।

दिल्ली में स्कूल जाने से पहले इन-इन बातों का रखना होगा ध्यान

  • बिना पैरंट्स के लिखित सहमति के स्कूल आने की इजाजत नहीं दी जाएगी।
  • स्कूल में असेंबली नहीं होगी।
  • स्कूल कैंपस में बीमारी के लक्षण वाले बच्चे और स्टाफ को आने की परमिशन नहीं होगी।
  • स्कूल एंट्री गेट में थर्मल स्क्रीनिंग, सैनेटाइजर और मास्क लगाना जरूरी है।
  • स्कूल के एंट्रेंस, क्लासरूम, लैब में हर दिन सैनेटाइजेशन जरूरी है।
  • क्लासरूम और लैब में 12 से 15 स्टूडेंट्स ही होने चाहिए।
  • स्कूल में आउटडोर फिजिकल एक्टिविटी नहीं होगी।
  • स्टूडेंट्स की एंट्री स्कूल में एकसाथ नहीं होगी और एंट्री-एग्जिट में गैप भी होगा।