गणतंत्र दिवस पर झंडा फहराने के बाद राजपथ पर परेड शुरू

गणतंत्र दिवस का मुख्य समारोह जारी

  • राजपथ पर गणतंत्र दिवस का मुख्य समारोह जारी है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने झंडा फहराया और फिर सेना के जवानों ने सलामी दी।
  • इस मौके पर उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत अनेक गणमान्य अतिथि मौजूद हैं।
  • झंडा फहराने के बाद सबसे पहले हेलिकॉप्टरों ने दर्शकों पर फूल बरसाए और फिर राजपथ पर परेड शुरू हुई।
  • राजपथ पर पहली बार बांग्लादेश की सशस्त्र सेनाओं के 122 सैनिकों का मार्चिंग दस्ते ने अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई। इस दस्ते का नेतृत्व लेफ्टिनेंट कर्नल अबु मोहम्मद शाहनूर शावोन और उनके डिप्टी लेफ्टिनेंट फरहान इशराक और फ्लाइट लेफ्टिनेंट सिबत रहमान ने किया।
  • इसके बाद विभिन्न राज्यों की झांकियां राजपथ पर निकली। इन झांकियों में राज्य की संस्कृति और इतिहास का समावेश था। अलग-अलग राज्यों की झांकियों में स्थानीय संस्कृति को दर्शाया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गणतंत्र दिवस पर देशवासियों को शुभकामनाएं दीं। इस अवसर पर पीएम मोदी ने राष्ट्रीय समर स्मारक पर शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित की। अंग्रेजी और हिंदी में ट्वीट में प्रधानमंत्री ने कहा, भारत के सभी लोगों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं .. जय हिंद। इसी दिन 1950 में भारत का संविधान लागू हुआ था।

राष्ट्रीय समर स्मारक पर शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि

इस अवसर पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत सहित तीनों सेनाओं के प्रमुख भी उपस्थित थे। प्रधानमंत्री ने शहीदों के स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित की और उनके सम्मान में दो मिनट का मौन रखा।

उन्होंने आगंतुक पुस्तिका पर संदेश भी लिखा। राष्ट्रीय समर स्मारक देश की रक्षा में शहीद सैनिकों के पुण्यस्मरण में निर्मित किया गया है। यह सशस्त्र सेनाओं के प्रति राष्ट्र की कृतज्ञता का प्रतिनिधित्व करता है। इससे पहले, प्रधानमंत्री ने देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दीं। उन्होंने ट्वीट किया, ”देशवासियों को गणतंत्र दिवस की ढेरों शुभकामनाएं। जय हिंद!’