22 दिसंबर को AMU शताब्दी समारोह में पीएम नरेंद्र मोदी बतौर मुख्य अतिथि शामिल होगे

AMU वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कार्यक्रम

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिर्सिटी के शताब्दी समारोह (100 वर्ष पूरे होने पर) में पीएम नरेंद्र मोदी बतौर मुख्य अतिथि शामिल होने वाले हैं। वह 22 दिसंबर को केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसके अलावा राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद से भी विश्वविद्यालय के अन्य ऑनलाइन शताब्दी कार्यों में शामिल होने की उम्मीद है।

एएमयू का दौरा

बता दें कि पीएम मोदी ही पहली बार एमयू नहीं जा रहे हैं, बल्कि 1964 के बाद एएमयू का दौरा करने वाले पीएम मोदी एकमात्र प्रधानमंत्री भी होंगे।

इसके पहले साल 1964 में दीक्षांत समारोह तत्कालीन प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने कार्यक्रम को संबोधित किया था। वहीं इस संबंध में कुलपति प्रोफेसर मंसूर ने आमंत्रण स्वीकार करने के लिए पीएम को धन्यवाद दिया।

यूनिवर्सिटी में फिलहाल शताब्दी समारोह को लेकर तैयारियां तेज हो चुकी हैं। प्रशासनिक ब्लॉक से शताब्दी गेट तक परिसर में प्रतिष्ठित और ऐतिहासिक इमारत को आज और कल शाम को रोशन किया जाएगा। इसके अलावा इस अवसर पर 100 वर्ष के समृद्ध इतिहास का स्मरण किया जाएगा।

इसके अलावा कहा कि, “इस ऐतिहासिक वर्ष के दौरान विश्वविद्यालय की रूपरेखा निजी और सार्वजनिक क्षेत्रों में विश्वविद्यालय के विकास और हमारे छात्रों के प्लेसमेंट में बहुत मदद करेगी। इसके अलावा वीसी मंसूर ने सभी स्टाफ सदस्यों, छात्रों, पूर्व छात्रों और शुभचिंतकों से अपील की है कि वे अपनी भागीदारी सुनिश्चित करवाएं। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, AMU की स्थापना 1920 में हुई थी। इसके बाद से ही यूनिवर्सिटी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की केंद्र रही है।