PM मोदी ने COVID के दौरान भारतीय अर्थव्यवस्था के प्रदर्शन की जमकर सराहा की

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस दौरान आर्थिक क्षेत्र में भारत की जो पहुंच बन रही है उसकी वजह से कोरोना काल में एक तरफ दुनिया भर के देश निवेश के लिए तरस रहे हैं लेकिन दूसरी तरफ भारत में रिकॉर्ड निवेश हो रहा है। 

अर्थव्यवस्था से लेकर रक्षा क्षेत्र की क्षमता

  • राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना महामारी के दौरान देश की अर्थव्यवस्था के प्रदर्शन को जमकर सराहा है।
  • प्रधानमंत्री ने कहा कि इस दौरान मिले सारे तथ्य बता रहे हैं कि इस दौरान भारत की अर्थव्यवस्था से लेकर रक्षा क्षेत्र की क्षमता को दुनिया भर ने देखा है।
  • इस दौरान प्रधान मंत्री ने अर्थव्यवस्था में आ रही रिकवरी का भी जिक्र किया।

डबल डिजिट ग्रोथ भारत में

  • उन्होने कहा कि अर्थव्यवस्था को लेकर मिल रहे अनुमान बता रहे हैं कि एक तरफ दुनिया भर अनेक देशों की स्थिति डांवांडोल है तो वहीं दूसरी तरफ भारत में डबल डिजिट ग्रोथ का अनुमान है।
  • प्रधानमंत्री ने कहा किआज भारत का विदेशी मुद्रा भंडार रिकॉर्ड स्तर पर है, अन्न उत्पादन रिकॉर्ड स्तर पर है, इंटरनेट यूजर के मामले में दुनिया में दूसरे नंबर पर है, आज हर महीने 4 लाख करोड़ का लेनदेन डिजिटली हो रहा है।
  • विपक्ष पर वार करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि याद कीजिए इसी सदन के भाषण में सुन रहा था लोग डिजिटल कैसे बनेंगे, देश की ताकत देखिए हर महीने 4 लाख करोड़ रुपए भारत मोबाइल फोन के निर्माता के रूप में दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश है, रिकॉर्ड संख्या मे स्टार्टअप हैं, रीन्यूवल एनर्जी के क्षेत्र में दुनिया के पहले 5 देशों में पहुंच चुके हैं।
  • चीन और पाकिस्तान का नाम लिए बिना प्रधानमंत्री ने पड़ोसी देशों को संदेश देते हुए कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक हो या एयर स्ट्राइक भारत की क्षमता को दुनिया भर ने देखा है। उन्होने कहा कि भारत हर क्षेत्र में अपनी रक्षा के लिए अपने सामर्थ्य के साथ खड़ा है।