भारत के चार राज्यों में कोरोना वायरस टीकाकरण का ड्राय रन करने की योजना

कोरोना वायरस टीकाकरण का ड्राय रन

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को सभी राज्यों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की है। अधिकारी ने कहा, ‘हम हर राज्य में कम से कम दो साइटें देख रहे हैं, जहां पर्याप्त लाभार्थियों को नामांकित किया जा सकता है।’ इस बैठक के बाद मंत्रालय ने दो जनवरी से भारत में वैक्सीन का ड्राय रन किए जाने का फैसला लिया है। 

  • कोरोना वायरस वैक्सीन को लेकर गुरुवार को एक अच्छी खबर आई है। चार राज्यों में कोरोना वायरस टीकाकरण का ड्राय रन करने के बाद अब केंद्र सरकार देशभर में इसी तरह के अभ्यास आयोजित करने की योजना बना रही है।
  • ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि वैक्सीन को उपयोग के लिए मंजूरी मिलने के बाद मेगा ड्राइव को आसानी से किया जा सके।
  • सभी राज्यों की राजधानी की कम से कम तीन सेशन साइट पर इस अभ्यास को किया जाएगा। इसमें कुछ राज्यों के ऐसे जिले भी शामिल होंगे जो बेहद दूर हैं या जहां लॉजिस्टिक्स सपोर्ट खराब है।

कोविड-19 टीकाकरण प्रक्रिया के परीक्षण

  • इससे पहले दो दिन 29 और 29 दिसंबर को देश के चार राज्यों में ड्राय रन किया जा चुका है। पंजाब, असम, गुजरात और आंध्र प्रदेश में ड्राय रन किया गया था।
  • चारों राज्यों में इसके अच्छे परिणाम सामने आए थे जिसके बाद सरकार ने अब पूरे देश में ड्राय रन का फैसला किया है।
  • यह अभ्यास कोविड-19 टीकाकरण प्रक्रिया के परीक्षण के उद्देश्य से किया गया था और इसमें परिचालन दिशानिर्देशों के अनुसार योजना और तैयारी शामिल थी।
  • इसमें कोविन एप्लिकेशन का उपयोग, हेल्थकेयर वर्कर्स का डाटा अपलोड, टीके की रसीद और टीका आवंटन, टीकाकरण टीमों की तैनाती और सेशन साइटों पर लॉजिस्टिक्स जुटाना शामिल था। 

क्या होता है ड्राय रन

  • स्वास्थ्य मंत्रालय के निर्देशों के अनुसार, ड्राय रन में राज्यों को अपने किन्हीं दो शहरों को चिन्हित करना होता है।
  • इन शहरों में वैक्सीन के शहर में पहुंचने, अस्पताल तक जाने, लोगों को बुलाने, फिर डोज देने की पूरी प्रक्रिया का पालन इस तरह किया जाता है जैसे टीकाकरण कार्यक्रम हो रहा हो।
  • साथ ही सरकार ने कोरोना वैक्सीन के लिए जिस कोविन मोबाइल एप को बनाया है, उसका भी ट्रायल किया जाएगा।
  • इस दौरान जिन लोगों को वैक्सीन दी जानी है उन्हें एसएमएस भेजा जाता है। इसके बाद अधिकारियों से लेकर स्वास्थ्यकर्मी टीकाकरण का कार्य करेंगे।

पंजाब सहित चार राज्यों में हुआ वैक्सीन का ड्राय रन

  • पंजाब सहित चार राज्यों में कोविड वैक्सीन का ड्राय रन किया गया। पंजाब, आंध्र प्रदेश, असम और गुजरात में यह ट्रायल किया गया।
    इन राज्यों में टीकाकरण से जुड़ी तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं।
  • इस दौरान कोल्ड चेन से लेकर लोगों के पंजीयन और टीका बूथ पर डोज देने के अलावा चिकित्सीय निगरानी किस तरह से की जाएगी, इसका पूरा अभ्यास किया गया।
  • केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से कोविड-19 सेशन स्थलों पर टीकाकरण की तैयारियों की समीक्षा के लिए एक उच्च-स्तरीय बैठक की।
  • उन्होंने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के सचिवों (स्वास्थ्य), एनएचएम एमडी और अन्य स्वास्थ्य प्रशासकों के साथ विचार किया।