कोविड केंद्रित स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी बेचने और उनके नवीनीकरण की अनुमति - Nildarpan

कोविड केंद्रित स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी बेचने और उनके नवीनीकरण की अनुमति

शेयर खरीद के बाद कंपनी में प्रवर्तकों की हिस्सेदारी 12.95 प्रतिशत से बढ़कर 13.12 प्रतिशत तक बढ़ी

  • सूचना प्रौद्योगिकी कंपनी इन्फोसिस ने अपनी 9,200 करोड़ रुपये की पुनर्खरीद पेशकश के तहत 5.58 करोड़ इक्विटी शेयरों को वापस खरीद लिया है।
  • एक सार्वजनिक सूचना के अनुसार, इन शेयरों की पुनर्खरीद 1,648.53 रुपये प्रति इक्विटी शेयर के औसत मूल्य पर की गई है।
  • कंपनी ने कुल 5,58,07,337 इक्विटी शेयरों की लगभग 9,200 करोड़ रुपये में वापस खरीद की। पुनर्खरीद के लिए शेयर का सबसे ऊंचा मूल्य 1,750 रुपये और सबसे निचला मूल्य 1,538.10 रुपये प्रति इक्विटी शेयर था।
  • कंपनी ने कहा है कि इस शेयर खरीद के बाद कंपनी में प्रवर्तकों की हिस्सेदारी 12.95 प्रतिशत से बढ़कर 13.12 प्रतिशत हो गई।
  • इन्फोसिस के निदेशक मंडल ने 9,200 करोड़ रुपये की शेयर वापसी खरीद योजना को मंजूरी दी थी जिसकी शुरुआत 25 जून को हो गई थी।

बीमा कंपनियों को 31 मार्च 2022 तक अल्प अवधि वाले कोविड से जुड़ी स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी पेश

  • बीमा नियामक इरडा ने सोमवार को बीमा कंपनियों को मार्च 2022 तक अल्प अवधि के लिये कोविड केंद्रित स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी बेचने और उनके नवीनीकरण की अनुमति दी है।
  • देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण इरडा) ने पिछले साल सभी बीमा कंपनियों से स्वास्थ्य बीमा के रूप में अलग-अलग लाभ के साथ ‘कोरोना कवच’ और ‘कोरोना रक्षक’ पॉलिसी लाने को कहा था।
  • कई बीमा कंपनियां अल्पकालिक उत्पाद लेकर आई थीं, जो नियमित स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियों की तुलना में कम प्रीमियम के कारण लोकप्रिय हो गईं।
  • नियामक ने एक परिपत्र में कहा कि सभी बीमा कंपनियों को 31 मार्च 2022 तक अल्प अवधि वाले कोविड से जुड़ी स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी पेश करने और उसके नवीनीकरण की अनुमति है।