अभय सिंह चौटाला ने हरियाणा विधानसभा से त्यागपत्र देने की पेशकश कर दी

नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन

अभय चौटाला ने कहा है कि अगर केंद्र सरकार कृषि क़ानून वापस नहीं लेती तो विधानसभा से मेरा इस्तीफ़ा समझा जाए. अभय चौटाला ने ये भी कहा है कि अगर 26 जनवरी तक क़ानून वापस नहीं होते तो इसको मेरा त्यागपत्र ही समझा जाए.

  • केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन 48 दिनों से जारी है. आज सुप्रीम कोर्ट ने भी सुनवाई के दौरान तीनों कृषि कानूनों पर रोक लगाने की बात कही है.
  • इस बीच कृषि क़ानून के विरोध में इंडियन नेशनल लोक दल (INLD) के नेता अभय सिंह चौटाला ने हरियाणा विधानसभा से त्यागपत्र देने की पेशकश कर दी है. 
  • विधायक पद से त्यागपत्र की चिठी स्पीकर को भेजी गई है.

बता दें कि आंदोलन की शुरूआत से ही अक्षय चौटाला तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग पर अड़े हुए हैं. साथ ही उनकी मांग है कि सरकार किसानों के खिलाफ दर्ज मुकदमे भी वापस ले.