तिरंगे के अपमान में आरोपी बनाए गए दीप सिद्धू ने एक नया वीडियो शेयर किया

दीप सिद्धू का दावा- जनता को धोखा देने का आरोप

26 जनवरी के दिन ट्रैक्टर रैली के आड़ में दिल्ली में हुई हिंसा और लाल किले में हुए तिरंगे के अपमान में आरोपी बनाए गए दीप सिद्धू है। इस वीडियो में उसने अभिनेता और बीजेपी सांसद सनी देओल पर जनता को धोखा देने का आरोप लगाया है।

  • सिद्धू ने ये भी कहा कि उसने कभी भी बीजेपी के लिए वोट नहीं मांगा। उस पर बीजेपी या आरएसएस का आदमी होने के गलत आरोप लगाए जा रहे हैं।
  • उसने कहा कि लाल किले पर हुई हिंसा के दौरान वहां पर पांच लाख लोगों की भीड़ जमा हुई थी वो वहां पर अकेला नहीं था।
  • इसके साथ ही उस पर लगाए जा रहे आरोपों के लिए उसने पंजाब की भी आलोचना की है।
  • उसने कहा कि लाल किले पर कई नेता और गायक भी थे, लेकिन अब उसे अकेले ही निशाना बनाया जा रहा है।
  • उसने कहा कि सरकार के आरोपों से ज्यादा मैं अपने लोगों के आरोपों से दुखी हूं। उसने बताया कि वो इस समय बिहारी मजदूरों के बीच रह रहा हूं।
  • मेरे पास खाने को कुछ नहीं है। अगर सरकार का आदमी होता तो किसी आलीशान होटल में मजे कर रहा होता।

5 उपद्रवियों की हो चुकी पहचान

सिद्धू ने अपने वीडियो में कहा है कि उसने 20 दिन सनी देओल को ये सोचकर दिए कि वो मेरा भाई है। लेकिन अब में देओल से कहना चाहता हूं कि वो गल हैं। मुझे उम्मीद थी की आप लोगों के लिए खड़े होंगे, लेकिन आपने उनका साथ छोड़ दिया।

  • यहां उपद्रव करने वाले 5 लोगों की पहचान क्राइम ब्रांच कर चुकी है। इनका पंजाब में आपराधिक रिकॉर्ड मिला है।
  • वही शुरुआती तफ्तीश में पता चला है कि ट्रैक्टर पर सवार उपद्रवी पूरी प्लानिंग के साथ दिल्ली दाखिल हुए थे।
  • उन्हें पता था पकड़े नहीं जाएंगे इसीलिए उन्होंने पुलिस वालों के ऊपर ट्रैक्टर चढ़ा कर जान लेने का प्रयास किया।