नर्तक पंडित बिरजू महाराज का निधन

नर्तक पंडित बिरजू महाराज का किडनी की बीमारी से निधन

  • देश-दुनिया में कथक नृत्य से अपनी पहचान बनाने वाले नर्तक पंडित बिरजू महाराज (Birju Maharaj) का रविवार देर रात निधन हो गया है।पद्म विभूषण से सम्मानित 83 साल के Birju Maharaj के पोते स्वरांश मिश्रा ने उनके निधन की पुष्टि की। दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हुआ है।
  • Birju Maharaj का जन्म उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हुआ था। अभी वे दिल्ली में रह रहे थे। रविवार देर रात बिरजू महाराज अपने पोते के साथ खेल रहे थे तभी उनकी तबीयत बिगड़ गई और वे बेहोश हो गए। उन्हें दक्षिणी दिल्ली स्थित साकेत अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। कुछ दिनों पहले उन्हें किडनी की बीमारी का पता चला था और वे डायलिसिस पर थे।
  • पंडित बिरजू महाराज की पोती रागिनी महाराज ने बताया, उनका पिछले एक महीने से इलाज चल रहा था। बीती रात करीब 12:15-12:30 बजे उन्हें अचानक सांस लेने में तकलीफ हुई। हम उन्हें 10 मिनट के भीतर अस्पताल ले आए, लेकिन उनका निधन हो गया।
  • देश के दूसरे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार, पद्म विभूषण से सम्मानित बिरजू महाराज को उनके शिष्यों और अनुयायियों द्वारा प्यार से पंडित-जी या महाराज-जी कहा जाता था। बिरजू महाराज कथक नर्तकियों के महाराज परिवार के वंशज थे, जिसमें उनके दो चाचा, शंभू महाराज और लच्छू महाराज, और उनके पिता और गुरु, अचन महाराज शामिल हैं।

बिरजू महाराज के निधन पर पीएम मोदी का ट्वीट पोस्ट : भारतीय नृत्य कला को विश्वभर में विशिष्ट पहचान दिलाने वाले पंडित बिरजू महाराज जी के निधन से अत्यंत दुख हुआ है। उनका जाना संपूर्ण कला जगत के लिए एक अपूरणीय क्षति है। शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिजनों और प्रशंसकों के साथ हैं। ओम शांति!

देश की अन्य बड़ी हस्तियां भी बिरजू महाराज के निधन पर श्रद्धांजलि दे रही हैं।

  • मालिनी अवस्थी ने ट्वीट किया, ‘आज भारतीय संगीत की लय थम गई है। आवाजें खामोश हो गईं। कथक के राजा पंडित बिरजू महाराज नहीं रहे। लखनऊ की देवधी आज वीरान हो गई। कालिकाबिन्दादीन की गौरवमयी परम्परा की सुगन्ध पूरे विश्व में फैलाने वाले महाराज अनंत में विलीन हो गए। आह! यह एक अपूरणीय क्षति है।’
  • सीएम श्री Chouhan Shivraj ने प्रसिद्ध कथक नर्तक,शास्त्रीय गायक,पद्म विभूषण पंडित बिरजू महाराज जी के निधन गहन शोक व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने ईश्वर से दिवंगत पुण्यात्मा को अपने श्री चरणों में स्थान देने व शोकाकुल परिजनों को यह दुःख सहने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है।
  • CM Madhya Pradesh भारतीय कला-संस्कृति को कथक नृत्य शैली के माध्यम से संपूर्ण विश्व में प्रसिद्धि दिलाने वाले कथक सम्राट पद्म विभूषण पंडित बिरजू महाराज जी का निधन अत्यंत दुःखद है। उनको मेरी भावभीनी श्रद्धांजलि। पंडित बिरजू महाराज जी का निधन कला जगत एवं देश के लिए अपूरणीय क्षति है। ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करे और परिजनों को संबल दे। ॐ शांति
  • Nitin Gadkari नही रहे कथक के सरताज !!! सुप्रसिद्ध कथक नर्तक एवं कोरियोग्राफर पद्मविभूषण श्री बिरजू महाराज जी के निधन का समाचार अत्यंत दुःखद है। उनका जाना कला जगत के लिए अपूरणीय क्षति है। ईश्वर उनकी दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों मे स्थान दे और उनके प्रशंसकों को सम्बल प्रदान करे। ॐ शांति