भारत में बनी वैक्सीन कोविशील्ड देश और विदेश में लोगों को दी

कोरोना महामारी जानलेवा बीमारी

WHO के महानिदेशक टेडरोस अदानोम गेब्रेयसस ने भारत और पीएम नरेंद्र मोदी PM Narendra Modi) की कोरोना से लड़ने के खिलाफ योगदान के लिए शुक्रिया कहा है। उन्होंने कहा कि इस मुसीबत के वक्त में अगर हम मिलकर आगे बढ़ें और अपनी जानकारी साझा करें तो इस जानलेवा वायरस को रोक सकते हैं तथा लोगों की जान बचा सकते हैं।

  • कोरोना महामारी के दौरान पूरी दुनिया हलकान रही। लाखों लोगों को इस जानलेवा बीमारी ने मौत की नींद सुला दिया। पर वैज्ञानिकों की अथक मेहनत के बाद इस वायरस के खिलाफ कोविड-19 बनी।
  • भारत में ऑक्सफोर्ड एस्ट्राजेनेका की बनी वैक्सीन कोविशील्ड देश और विदेश में लोगों को दी जा रही है और अब विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी भारत की वैक्सीन डिप्लोमेसी की तारीफ की है।

भूटान, नेपाल और बांग्लादेश को भी वैक्सीन का गिफ्ट

  • भारत ने कोरोना वैक्सी की 20 लाख डोज ब्राजील को भेजा है।
  • वैक्सीन मिलने के बाद ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो काफी खुश हुए और इसकी तुलना हनुमान जी की संजीवनी से कर दी।
  • उन्होंने हनुमान की संजीवनी ले जाते हुए तस्वीर ट्वीट कर पीएम मोदी का आभार जताया।
  • यही नहीं, भारत ने अपने करीबी पड़ोसी भूटान को भी कोविड वैक्सीन भेजा है। भारत ने कोविशील्ड वैक्सीन के करीब 1.5 लाख डोज भूटान को भेजे हैं।
  • यही नहीं, भारत ने नेपाल और बांग्लादेश को भी वैक्सीन गिफ्ट किया है। भारत की दिलेरी के लिए नेपाल ने पीएम मोदी का शुक्रिया भी अदा किया था।