उत्तराखंड को नए साल पर केंद्र सरकार ने बड़ी सौगात दी

उत्तराखंड में निरंतर रेल सेवाओं का विस्तार

  • केंद्र सरकार ने नए साल पर उत्तराखंड को बड़ी सौगात दी है। रेल मंत्रालय ने कोटद्वार व टनकपुर से नई दिल्ली के लिए दो जन शताब्दी शुरू करने की मंजूरी दे दी है।
  • राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी दोनों शहरों से जन शताब्दी ट्रेनों के संचालन के लिए पहल करते आ रहे थे।
  • केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख व सांसद बलूनी को पत्र भेजकर दोनों शहरों से जन शताब्दी शुरू करने की मंजूरी का पत्र भेजा है।
  • बलूनी को यह पत्र मिल भी चुका है। रेलवे मंत्रालय अब जल्द ही दोनों ट्रेनों का टाइम टेबल भी करेगा। बलूनी ने 17 नवंबर को केंद्रीय मंत्री गोयल से मुलाकात कर यह आग्रह किया था।
  • मंत्रालय ने डेढ़ माह के भीतर उनके अनुरोध को स्वीकार करते हुए उत्तराखंडवासियों को यह खुशखबरी दी है।
  • बलूनी ने कहा कि उत्तराखंड में निरंतर रेल सेवाओं के विस्तार व उच्चीकरण में केंद्रीय मंत्री ने उदारता का परिचय दिया है।

रेल यात्रा की सेवाएं

भाजपा राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख बलूनी ने बताया कि टनकपुर- नई दिल्ली जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन से पिथौरागढ़, चंपावत और उधमसिंह नगर के तो कोटद्वार-नई दिल्ली जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन से गढ़वाल मंडल के लोगों को सुगम और सुविधा युक्त रेल यात्रा की सेवाएं मिल सकेंगी।

  • मोदी सरकार आमजन की सेवा-सुविधा के लिए कृत संकल्प है। भाजपा केंद्र सरकार के कार्यकाल में  उत्तराखंड में रेल क्षेत्र में क्रांति हुई है।
  • ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाइन का कार्य तेजी से चल रहा है। नैनी-दून जनशताब्दी एक्सप्रेस गढ़वाल-कुमाऊं को निर्बाध रूप सेवा दे रही है।
  • काशीपुर-धामपुर नई रेल लाइन पर भी गंभीरता से मंत्रालय काम कर रहा है। इस तरह टनकपुर- बागेश्वर रेल लाइन का संकल्प भविष्य में धरातल पर जरूर उतरेगा।
  • इन दोनों ट्रेनों के संचालन से यहां के नागरिकों, विद्यार्थियों, रोगियों और नौकरी पेशा लोगों के लिए राहत होगी।