6 राज्यों में बर्ड फ्लू का खतरा

बर्ड फ्लू को देखते हुए उठाए कदमों पर कंट्रोलरूम की नजर

  • कोरोना की आफत जब कम होती दिखी है तो देश के कई राज्यों में अब बर्ड फ्लू का खतरा मंडराने लगा है.
  • फिलहाल 6 राज्यों में बर्ड फ्लू के मामले सामने आए हैं जिसके बाद केंद्र की मोदी सरकार भी ऐक्शन में है.
  • अब दिल्ली में एक कंट्रोल रूम बनाया गया है. यह कंट्रोल रूप रोजाना उन कदमों पर नजर रखेगा जो राज्य सरकारों द्वारा बर्ड फ्लू को देखते हुए उठाए जाएंगे.
  • बता दें कि फिलहाल राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, केरल, हरियाणा और गुजरात और केरल में बर्ड फ्लू के मामले मिल चुके हैं.
  • अब केंद्र सरकार ने पशुपालन और डेयरी विभाग के साथ मिलकर दिल्ली में कंट्रोल रूम बनाया है. 
  • अब 6 राज्यों में पोल्ट्री फार्म और तालाबों के अलावा प्रवासी पक्षियों पर प्रशासन विशेष निगरानी कर रहा है.

बर्ड फ्लू की वजह से राजस्थान में 425 से ज्यादा पक्षियों की मौत हो चुकी है. पशुपालन एवं डेयरी विभाग को सूचना मिली है कि पिछले 10 दिनों में पंचकूला जिला के बरवाला क्षेत्र में गांव गढ़ी कुटाह और गांव जलोली के पास 20 पोल्ट्री फार्मों में करीब 4 लाख मुर्गियों की असामान्य मौत हुई है.

क्या हैं बर्ड फ्लू के लक्षण और कैसे करें बचाव?

  • इंसानों में बर्ड फ्लू के लक्षण भी सामान्य फ्लू जैसे होते हैं. सांस लेने में तकलीफ, बुखार, नाक बहना, वोमेटिंग का मन होना, सिर में, मांसपेशियों में और पेट के निचले हिस्से में दर्द रहना.
  • वगैरह इस बीमारी के लक्षण हो सकते हैं. इंसानों में यह बीमारी मुर्गियों और संक्रमित पक्षियों के संसर्ग यानी बेहद करीब रहने से होती है.
  • एवियन इन्फ्यूएंजा वायरस काफी खतरनाक होता है और यह इंसानों की जान तक ले सकता है. यह वायरस इंसानों में आंख, नाक या मुंह के जरिए प्रवेश करता है.
  • विशेषज्ञों की सलाह है कि इलाके में बर्ड फ्लू का संक्रमण फैले तो नॉनवेज खरीदते वक्त साफ-सफाई का पूरा ख्याल रखें.
  • संक्रमित एरिया से मास्क लगाकर ही गुजरें. इसमें बिना चिकित्सकीय सलाह के कोई दवा नहीं लेनी चाहिए.